भाई दूज का पावन पर्व मैं मनाऊं

कवीता
भाई दूज का पावन पर्व मैं मनाऊं

आ भैया तुझे तीलक लगाऊ
भाई दूज का पावन पर्व मैं मनाऊं
सनेह भरी अभिव्यक्ति देकर
तेरी खुशहाली के मंगल गीत मैं गाऊ
आ भैया तुझे तीलक लगाऊं

कीतना पावन दीन यह आया
जिसने भाई बहन को फीर से मिलाया
मनं मैं बहती स्नेह की गंगा
ख़ुशी के अश्रुँ को मैं केसे छुपाऊ
आ भैया तुझे तीलक लगाऊ
भाई दूज का पावन पर्व में मनाऊ
सनेह भरी अभिव्यक्ति देकर
तेरी खुशहाली के मंगल गीत मैं गाऊ
आ भैया तुझे तीलक लगाऊं

खुश किस्मत है मुझ जेसी बहना
जीसे दीया है ईश्वर ने भाई सा गहना
तुझे टीका लगाऊ , मुहं मीठा करवाऊ ,
तेरी लम्बी उम्र की शुभ कमाना कर
तुझ पे वारी मैं जाऊं
आ भैया तुझे तीलक लगाऊ
भाई दूज का पावन पर्व मैं मनाऊं
सनेह भरी अभिव्यक्ति देकर
तेरी खुशहाली के मंगल गीत मैं गाऊ
आ भैया तुझे तीलक लगाऊं

आरती की मैं थाली सजाऊ
रोली एवं अक्षत से अपने भाई का तिलक लगाऊं
कभी न तुझ पे आए संकट
तेरे उज्ज्वल भविष्य के कामना गीत मैं गाऊ
आ भैया तुझे तीलक लगाऊं
भाई दूज का पावन पर्व में मनाऊं
सनेह भरी अभिव्यक्ति देकर
तेरी खुशहाली के मंगल गीत मैं गाऊ
आ भैया तुझे तीलक लगाऊ
( संजय कुमार फरवाहा)






Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: